Black Beans : Nutrition, Benefits in Hindi

black beans in hindi

आप को भी Black beans in hindi में जानना है, जैसे कुछ दिन पहले तक मुझे जानना था। शायद आपने कही पढ़ा होगा या तो किसी ने आपको बताया होगा। आज हम इस लेख में black beans के बारे में सारी जानकारी देंगे। black beans को हिंदी में काले बीन कहते है। दिखने में ये सोया बीन की तरह ही होते है। यह एक फलिया के रूप में जाना जाता है। जैसे कि मूमफली, चने ओर ओट्स अन्य फलिया है। अपने कठिन और खोल रूप के कारण इसे कछुए का फल भी कहते है।

ब्लैक बीन असल मे पौधे के खाद्य बीज है। अन्य फलिया की तरह यह फाइबर ओर प्रोटीन से भरे होते है। जो कि मानव विकास के लिए महत्वपूर्णमने जाते है। काले सेम में कई अन्य महत्वपूर्ण विटामिन और खनिज की भारी मात्रा पाई जाती है, जो मानव स्वास्थ्य लाभ पहुचती है। सबसे मजेदार यह खाने में बहुत ही स्वादिष्ट होता है। भारतीय हर रसोई में पाया जाता है। 

Black beans अन्य दालो की तरह आपको नज़दीकी दुकान पर मिल जाएंगे। यह ज्यादातर सूखे हुए बीजो के रूप में मिलते है। सब्जी बनाने के लिए आपको इन्हें अन्य दलों की तरह पहले पानी मे भिगोना होगा, ओर फिर पानी मे उबालना होगा। उसके बाद अगर आप सब्जी बनाते हो तो आपका बहुत समय बचेगा साथ ही राजमा अच्छे से पक जाएगा। जिससे खाने में ओर भी स्वादिष्ट लगेगा।


Nutrition of Black Beans in Hindi - ब्लैक बीन्स के पोषणतत्व

National Nutrient Database के हिसाब से पक्के हुए ब्लैक बीन्स का आधे कप में इतने नुट्रिशन्स होते है। (मात्रा लगभग ८० ग्राम):
  • ऊर्जा: 114 किलोकलरीज
  • प्रोटीन: 7.62 ग्राम
  • वसा: 0.46 ग्राम
  • कार्बोहाइड्रेट: 20.39 ग्राम
  • फाइबर: 7.5 ग्राम
  • शक्कर: 0.28 ग्राम
  • कैल्शियम: 23 मिलीग्राम (मिलीग्राम)
  • लोहा: 1.81 मिलीग्राम
  • मैग्नीशियम: 60 मिलीग्राम
  • फास्फोरस: 120 मिलीग्राम
  • पोटेशियम: 305 मिलीग्राम
  • सोडियम: 1 मिलीग्राम
  • जस्ता: 0.96 मिलीग्राम
  • थियामिन: 0.21 मिलीग्राम
  • नियासिन: 0.434 मिलीग्राम
  • फोलेट: 128 संदेश
  • विटामिन के: 2.8 मिलीग्राम



Health Benefits of Black Beans in Hindi


black beans in hindi



एक स्वादिष्ट भोजन जो आपके मुंह मे पानी ले दे। खाने में चिकन से भी टेस्टी ओर आकर्षित। साथ ही black beans सेहत के लिए बहुत फायदे मंद होता है। इसमे बहुत सी कैलरी मिलती है। फाइबर, कैल्शियम, मैग्नीशियम, ताबा, आदि की अच्छी मात्रा मिल जाती है। तोह चलिए इसके जानते है black beans in hindi :


हड्डियों की मजबूरी के लिए उपयोग


Black beans में अन्य दालो की तरह लोहा, फॉस्फोरस, कैल्शियम, मैग्नीशियम की मात्रा भर भर कर पाई जाती है। साथ ही ताम्बा, जस्त आदि की मात्रा होती है। यह सभी हड्डियों को मजबूत बनाते है, साथ ही हडियॉ के ढांचे को बनाये रखने में मदत करते है।

आप तो जानते ही है के, हड्डियों ओर जोड़ो की मजबूती बनाये रखने में लोह और जस्त कितने महत्वपूर्ण है। साथ ही कैल्शियम और फॉस्फोरस हड्डियों की संरचना के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है।

तो इसका मतलब है की, आहार में black beans इस्तेमाल करना मतलब इन सभी पोषक तत्वों पर्याप्त रूप से प्राप्त करना है। मानव शरीर की हड्डियों में लगभग 99% कैल्शियम, 70%  मैग्नीशियम और 60% फॉस्फोरस समाविष्ट है।

रक्तचाप काम करने के लिए


रक्तचाप का बढ़ना आज कि बहुत बड़ी समस्या हो चुकी है। हमारे शरीर में ब्लड प्रेशर को सामान्य स्तर पर रखने के लिए इसमे मौजूद सोडियम की कम मात्रा हमे मदत करता है। साथ इसमे पोटेशियम, कैल्शियम और मैग्नीशियम अच्छी मात्रा में होते है, जो रक्तचाप को नियंत्रित रखते है।

मधुमेह पर नियंत्रण


कुछ अंतरराष्ट्रीय विद्यालयो से किये गए प्रयोग से यह निच्छित किया की, 1 टाइप के मधुमेह वाले व्यक्ति उच्च फाइबर सेवन करने से उनके रक्त से शुगर का स्तर कम होता है। और टाइप 2 के मधुमेह वाले व्यक्ति रक्त में शुगर, इंसुलिन के स्तर में सुधार कर सकते है। एक कटोरी अच्छे से पक्की हुए black beans में 15 ग्राम तक फाइबर मौजूद होता है।


दिल की बीमारी को दूर रखता है



Black beans में पाया जाने वाला फाइबर रक्त से कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करने में मदत करता है। साथ ही हृदय रोग के जोखिम को कम करने में सहायक है। शरीर मे homocysteine नामक एक घटक के बढ़ जाने से रक्त वाहिनियों को नुकसान हो सकता है। जिसके रोकने का काम बिटामिन B और फोलेट करता है।


कुछ शोध कर्ता द्वारा बताया गया है कि, saponins रक्त से लिपिड और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है। जो हृदय और नसों को बचाता है।

Black Beans के बारे में कुछ तत्थ

Are black beans and rajma same - क्या black beans और राजमा एक ही है?

जी नहीं, दोनों अलग अलग है। दुनिया में अनेक प्रकार के दाल है. इनमेसे बहुत सार हमें पता है। पर ऐसी बहुत है जनके बारे में हमने सुन्ना भी नहीं है। Black beans सोया बीन्स जैसे छोटे छोटे काळा रंग के होते है, वही राजमा बड़े बड़े दाल होती है। अपने राजना चावल तोह खाये ही होंगे। भारत में हम राजमा घर घर में जानते है पर ब्लैक बीन्स बहुत कम जानते है। हमने निचे कुछ फोटो दिया है जिसे देख कर आपको फर्क साफ समझ में आ जायेगा।



Are Black Beans Available in India - भारत में ब्लैक बीन्स मिलते है क्या ?

जी हाँ, आप भारत में ब्लैक बीन बीन्स मिलते है। आप कोई भी ऑनलाइन बाजार से इसे माँगा सकते है, तथा कही सुपर मार्किट में मिलते है। आप flipkart, Amazon, Indiamart आदि जगहों से इसे खरीद सकते हो। जो सीधा आपके घर पर पंहुचा दिए जायेंगे।

आखरी अनुमान

भारत में ब्लैक बीन्स बहुत कम इस्तमाल होता है। शायद इसीलिए हमें इसके बारे में कम जानकारी है। भारत के कुछ कुछ इलाको में यह मिलता है। पर अगर आपको खरीदना है तोह आप किसी भी ऑनलाइन स्टोर से इसे माँगा सकते है। खाने में बहुत ही टेस्टी होने के साथ यह आपके सेहत के लिए भी फायदे मंद है। उम्मीद है आपको black beans in Hindi समझ में आया होगा। अगर आपके मान में कुछ भी सवाल है तोह आप हमसे पूछ सकते है।


Previous Post
Next Post
Related Posts