www ka full form : www का संक्षिप्त नाम, इतिहास, फायदे और नुकसान

www ka full form



www का संक्षिप्त नाम world wide web होता है। वर्ल्ड वाइड वेब दुनिया भर में मोजूत वेबसाइट को आदेश का एक संग्रह है। इस वेब भी कहा जाता है। यह साधारण प्रणाली है जो इंटरनेट पर मोजूत हाइपरटेक्स्ट दस्तावेज़ ओर साधनों को सूचना देती है।

www का इतिहास


12 मार्च, 1989 को एक ब्रिटिश इंजीनियर और कंप्यूटर वैज्ञानिक Tim Berners-Lee द्वारा www बनाया गया था। जब इनोने www की खोज की ओर इनका इसपर काम चालू था तभी CERN नामक संस्था में एक संयुक्त कॉन्ट्रेक्टर के स्वरूप में काम कर रहे थे। 1990 के सुरवती समय में tim बर्नर्स ली द्वारा पहला web Browser लिखा गया थाजिसके लिए NeXt computer का उपयोग दुनिया के सबसे पहले वेब सर्वर के रूप में किया गया था। NeXTSTEP नामक पर संचालन प्रणाली की मदद से चलता था। और पहला web सर्वर CERN HTTPd( हाइपरटेक्स्ट ट्रान्सफर प्रोटोकॉल डेमॉन) के नाम से चला था।

कुछ लोकप्रिय वेब ब्राउज़रों


Google Chrome
Mozilla Firefox
Opera
Yandex
Internet Explorer
Safari
Netscape

www वेब के फायदे


वेब संसाधनों का इस्तेमाल कर के आज दुनिया भर के लोग बात कर रहे है। दूर की दुनिया भी हमारे नज़दीक आ चुकी है।

आज हम वेबसाइट का उपयोग हमारे मोबाइल में कर के सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, twitter आदि पर हमें अलग देशों में घट रही घटनाओं के बारे में जानकारी मिल रही है। तथा हम अलग अलग लोगो तक वह जानकारी पहुँच रहे है।

आज वेब हर जगह मौजूद है। इसके वजह से लोगो का जीवन आसान और सुलभ बन गया है। आज आप इसका इस्तेमाल कर कही से भी टैक्सी तथा होटल में अपना room बुक कर सकते है।

अगर आपको किसी भी विषय मे कोई भी जानकारी चाहिए होती है तोह आप सीधे किसी सर्च इंजन पर उस विषय की जानकारी खोजते हैजैसे आज अपने www का फुल फॉर्म की
जानकारी खोजी और मेरे वेबसाइट पर आए। उसी प्रकार आप किसी भी विषय की जानकारी बड़ी आसानी से खोज पाते है।

मुझे आज भी याद हैकुछ सालों पहले अगर आप को किसी को पैसे भेजने होते थे तोह लाइन में लग कर पोस्ट ऑफ़िस से भेजना पड़ता था। वो शायद ही एक हफ्ते तक वहा पोहच पता था। पर आज अगर मुझे पैसा भेजना है तोह बस एक मिनट के अंदर दूसरे देशों तक भेजा जा सकता है।

आसान भाषा मे वेब की मदद से हमारी बहुत से काम आसान हुए है। आसान भाषा मे वेब की मदद से हमारी बहुत से काम आसान हुए है। दूर के दुनिया को हमारे नजदीक किया है. देशो विदेशोसे आज हम बात कर प् रहे अहइ तथा अपनी जानकारी दे प् रहे है।  यह सब वेब के वजह से ही संभव हो पाया है। 

वेब के नुकसान


आज हम लोग साइबर क्राइम के बारे में सुन ही रहे हैआपकी व्यक्तिगत जानकारी चुरा कर उस जानकारी से आपको ठगा जा रहा है। आज दुनिया भर में अनेक प्रकार के हैकर मौजूद है हो ये काम करके लोगो से बहुत कुछ छीनते है। 

वेब के वजहसे आसानी से हम जानकारी भेज तथा जमा कर सके है।  कुछ गलत इस्तमाल की वजह से बहुत सी गलत चीज़े बेचे जाने का खतरा बढ़ता जा रहा है।

आखरी विश्लेषण


उम्मीद है आपको www ka full form तथा जानकारीइतिहास समझ आया होगा. वेब के बारे में आपको जितना बताया जाए उतना काम ही है। वो सब हम किसी और लेख में बताएँगे। अगर आपको यह ;लेख अच्छा लगा हो तोह अपने मित्रो के साथ शेयर करे.

Previous Post
Next Post
Related Posts